MLA Ka Full Form in Hindi | MLA का फुल फॉर्म क्या है?

हमारा देश एक लोकतांत्रिक देश है, यहाँ पर प्रशासन का संचालन करने के लिए कार्यकारी प्रणाली को तीन स्तर में विभाजित किया गया है | प्रथम स्तर पर केंद्र सरकार है इसके द्वारा पूरे भारत के स्तर पर कार्य किया जाता है | दूसरे स्तर पर राज्य सरकार है, इसके द्वारा राज्य की सीमा के अंदर ही कार्य किया जाता है | तीसरे स्तर पर पंचायत और नगरपालिकाएं आती हैं, इनके द्वारा स्थानीय स्तर पर कार्य किया जाता है |

दूसरे स्तर पर राज्य सरकार का गठन विधान सभा के द्वारा किया जाता है | इस पेज पर MLA Ka Full Form in Hindi , MLA का मतलब क्या होता है, के विषय में बताया जा रहा है |

MP KA FULL FORM IN HINDI

एमएलए का फुल फॉर्म (MLA Full Form)

एमएलए का फुल फॉर्म “Member of Legislative Assembly” होता है, हिंदी में इसे “विधान सभा सदस्य” कहते है | विधान सभा सदस्य को एक निश्चित निर्वाचन क्षेत्र से मतदाताओं के द्वारा निर्वाचित किया जाता है | विधान सभा सदस्य को विधायक कहा जाता है | अंग्रेज़ी में इन्हें MLA कहते है | एक विधान सभा में कई विधायक होते है | इन्हीं विधायकों में से एक विधायक को राज्य का मुख्यमंत्री बनाया जाता है |

MLA का मतलब क्या होता है (MLA Meaning)?

विधान सभा सदस्य को MLA कहा जाता है | भारत के हर स्टेट में अलग-अलग समय में प्रत्येक पांच वर्ष में विधान सभा चुनाव का आयोजन किया जाता है | जनसंख्या के आधार पर प्रत्येक राज्य को अलग-अलग निर्वाचन क्षेत्रों में विभाजित किया गया है | प्रत्येक निर्वाचन क्षेत्र में एक व्यक्ति को चुना जाता है | निर्वाचन क्षेत्र से चुनाव लड़ने वाले उम्मीदवारों की संख्या निश्चित नहीं होती है, लेकिन इनमे से जीत केवल एक व्यक्ति की होती है | एक निर्वाचन क्षेत्र से MLA की योग्यता रखने वाले बहुत से लोगों के द्वारा चुनाव लड़ा जा सकता है |

यह आवश्यक नहीं है कि चुनाव लड़ने वाले उम्मीदवार को किसी राजनीतिक दल से संबद्ध होना चाहिए | बिना दल के व्यक्ति भी चुनाव को लड़ सकता है | बिना दल के उम्मीदवार को स्वतंत्र उम्मीदवार या निर्दलीय उम्मीदवार कहते है | चुनाव में जो उम्मीदवार जीत दर्ज करता है | उसे उस क्षेत्र का विधायक कहा जाता है |

बीडीसी का फुल फॉर्म क्या है

MLA की योग्यता (MLA Eligibility)

  • वह व्यक्ति भारत का नागरिक हो |
  • जो व्यक्ति विधान सभा चुनाव में भाग लेना चाहते है, उनकी आयु 25 वर्ष से कम नहीं होनी चाहिए |
  • उम्मीदवार को उस राज्य में किसी भी निर्वाचन क्षेत्र का मतदाता होना आवश्यक है |
  • उम्मीदवार को मानसिक रूप से स्वस्थ होना आवश्यक है |

जेसीबी (JCB) का फुल फॉर्म क्या है

MLA के कार्य (MLA Work)

  • एक एमएलए के द्वारा लोगों की शिकायतों और आकांक्षाओं का प्रतिनिधित्व किया जाता है |
  • एमएलए के द्वारा लोगों की इच्छा को राज्य सरकार तक पहुँचाया जाता है |
  • एक विधायक के द्वारा अपने क्षेत्र के लोगों के साथ सीधे जुड़ाव होता है |
  • वह सरकार द्वारा प्रदान की गयी सभी सुविधाओं का लाभ प्राप्त करता है |
  • उसके द्वारा सरकारी योजनाओं का लाभ अपने क्षेत्र के लोगों को अधिक से अधिक प्रदान करने का प्रयास किया जाता है |
  • वह अपने क्षेत्र के मुद्दों को विधान सभा में उठाता है, जिनका हल सरकार के द्वारा किया जाता है |
  • वह अपने क्षेत्र की जनता का प्रतिनिधि होता है |
  • उसे अपने निर्वाचन क्षेत्र को विकसित करने के लिए स्थानीय क्षेत्र विकास फंड का सही से उपयोग करना होता है |
  • वह अपने क्षेत्र का विकास करने के लिए उत्तरदायी होता है |

VIP और VVIP का फुल फॉर्म क्या होता है

MLA की अवधि (MLA Time Period)

एक एमएलए की अवधि पांच वर्ष की होती है | विधान सभा का कार्यकाल समाप्त होने के साथ ही एमएलए का कार्यकाल समाप्त हो जाता है | विधान सभा का कार्यकाल पांच वर्ष का होता है, परन्तु मुख्यमंत्री के अनुरोध पर राज्यपाल द्वारा उसे पहले भी भंग किया जा सकता है | आपातकाल के समय विधान सभा का कार्यकाल बढ़ाया भी जा सकता है, लेकिन एक बार में छ: महीने से अधिक नहीं बढ़ाया जा सकता है |

MLA को प्राप्त होने वाली सुविधाएँ

एक विधायक को गवर्नमेंट के द्वारा बहुत सी सुविधाएं प्रदान की जाती हैं, यह सुविधाएँ प्रत्येक राज्य में अलग- अलग है | तेलंगाना राज्य में विधायक को प्रतिमाह लगभग ढाई लाख का वेतन प्रदान किया जाता है | उत्तरप्रदेश में यह वेतन लगभग दो लाख रूपये है | इसके अतिरिक्त इन्हें चिकित्सा की सुविधा, डीजल की सुविधा, सरकारी आवास की सुविधा, सरकारी गाड़ी की सुविधा इत्यादि प्रदान की जाती है | पांच वर्ष का कार्यकाल पूरा होने पर विधायक को लगभग 30,000 प्रतिमाह की पेंशन प्रदान की जाती है | इसके अतिरिक्त इन्हें रेलवे की यात्रा, चिकित्सा की सुविधा इत्यादि पूरी आयु फ्री में प्रदान की जाती है |

MLA कैसे बनते हैं?

MLA बनने के लिए व्यक्ति को विधान सभा चुनाव में भाग लेना होता है | इसके लिए उसे किसी राजनैतिक दल से जुड़ना होता है | किसी भी राजनैतिक दल से जुड़े रहना आवश्यक नहीं है | आप निर्दलीय भी चुनाव लड़ सकते है | चुनाव लड़ने के लिए आप की जनता के बीच अच्छी पकड़ होनी चाहिए | अच्छी पकड़ होने के बाद ही आप अपनी जीत दर्ज कर सकते है अन्यथा आपको विरोधियों के द्वारा हार का सामना करना पड़ता है | आपने यदि पहले से ही अपने क्षेत्र में विकास के कार्य को कराया होगा तो जनता आपको अपने आप ही निर्वाचित कर देगी |

MLC FULL FORM IN HINDI