PCS Ka Full Form in Hindi

आज के समय में प्रत्येक व्यक्ति सरकारी नौकरी करना चाहता है, इसके लिए छात्र बहुत ही परिश्रम करते है | इस परिश्रम के बाद भी कुछ छात्र सफल नहीं हो पाते है | इसका मुख्य कारण सही जानकारी प्राप्त न होना है | सही जानकारी होने के बाद भी अपने लक्ष्य के लिए बहुत ही मेहनत करने की आवश्यकता होती है | इसके साथ ही सही मार्गदर्शक भी होना चाहिए जोकि समय रहते ही आपको गलत और सही की जानकारी दे सके | यदि आपको पीसीएस से सम्बंधित जानकारी नहीं है तो इस पेज पर PCS Ka Full Form in Hindi , पीसीएस (PCS) का क्या मतलब होता है, के विषय में बताया जा रहा है |

ये भी पढ़ें: OLED का फुल फॉर्म क्या होता है

पीसीएस (PCS) का फुल फॉर्म (Full Form)

पीसीएस (PCS) का फुल फॉर्म Provincial Civil Service होता है, हिंदी में इसे प्रांतीय सिविल सेवा के नाम से जाना जाता है | पीसीएस का अपने राज्य की नीति बनाने से संबंधित पद है | इसका चयन राज्य लोक सेवा आयोग द्वारा आयोजित प्रवेश परीक्षा के माध्यम से किया जाता है | इस पूरी परीक्षा को राज्य सरकार के द्वारा कराया जाता है |

पीसीएस (PCS) का क्या मतलब (Meaning) होता है

पीसीएस (PCS) एक राज्य द्वारा आयोजित होने वाली परीक्षा है | इस परीक्षा में सफल होने वाले अभ्यर्थियों को SDM, DSP, ARTO, BDO, District Minority Officer, District Food Marketing Officer, Assistant Commissioner, Business Tax Officer के पद पर नियुक्ति प्रदान की जाती है | इस परीक्षा को राज्य लोकसेवा आयोग के द्वारा आयोजित किया जाता है |

ये भी पढ़ें: MS FULL FORM IN HINDI

शैक्षिक योग्यता (Educational Qualification)

पीसीएस (PCS) के लिए शैक्षिक योग्यता इस प्रकार है-

  • इस परीक्षा में सम्मिलित होनें के लिए अभ्यर्थी के पास मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से स्नातक उत्तीर्ण होना आवश्यक है |
  • अभ्यर्थी की आयु 21 वर्ष से 40 वर्ष के बीच में होनी चाहिए |
  • वह भारत का नागरिक हो |
  • आरक्षित अभ्यर्थी को नियमानुसार छूट प्रदान की जाती है |

पीसीएस अधिकारी का वेतन (Salary)

एक पीसीएस अधिकारी के रूप में अभ्यर्थी को लगभग 15600 से 67000 रूपए प्रदान किये जाते है | इसके अतिरिक्त एक पीसीएस अधिकारी को सरकारी भवन, वाहन और अन्य प्रकार के भत्ते प्रदान किये जाते है |

एग्जाम पैटर्न (Exam Pattern)

पीसीएस (PCS) की चयन प्रक्रिया को तीन चरणों में पूरा किया जाता है-

  • Preliminary Examination
  • Mains Examination
  • Personal Interview

इन तीनों में सफल होने वाले अभ्यर्थी का चयन निर्धारित पदों पर किया जाता है |

ये भी पढ़ें: EMI FULL FORM IN HINDI

Preliminary Examination

इस परीक्षा में दो पेपर होते है, प्रथम पेपर में कुल 150 प्रश्न पूछे जाते है | द्वितीय पेपर में कुल 100 प्रश्न पूछे जाते है | इनकी समय अवधि 2 घंटे होती है | यह दोनों 200 अंक के होते है |

Mains Examination

इस पेपर में कुल 8 पेपर होते है इसमें 4 अनिवार्य तथा 4 वैकल्पिक विषय होते है-

अनिवार्य विषय (Compulsory Subject)

  • सामान्य अध्ययन पेपर 1
  • सामान्य अध्ययन पेपर 2
  • सामान्य हिंदी
  • निबंध

ये भी पढ़ें: DJ FULL FORM IN HINDI

वैकल्पिक विषय (Optional Subject)

  • हिंदी
  • अंग्रेज़ी
  • इतिहास
  • सामान्य विज्ञान
  • वर्तमान घटनाएं
  • भूगोल
  • विज्ञान
  • भारतीय राजनीति और शासन
  • पर्यावरण पारिस्थितिकी के सामान्य मुद्दे
  • आर्थिक और सामाजिक विकास

ये भी पढ़ें: CNC KA FULL FORM IN HINDI

साक्षात्कार (Interview )

यदि अभ्यर्थी  प्री एग्जाम और मेंस एग्जाम में उत्तीर्ण हो जाते है तो उन्हें साक्षात्कार के लिए बुलाया जाता है | यह 200 अंक का होता है | इसमें सामान्य जागरूकता, चरित्र, अभिव्यक्ति शक्ति और व्यक्तित्व से सम्बंधित प्रश्न पूछे जाते है |

पीसीएस परीक्षा की तैयारी (Preparation for PCS Exam)

आप पीसीएस परीक्षा की तैयारी इस प्रकार कर सकते है-

  • यदि आप पीसीएस के पद पर कार्य करना चाहते है, तो आपको अच्छी तैयारी करनी होगी इसके लिए आपको अपने राज्य से संबंधित इतिहास और भूगोल की अच्छी जानकारी होनी चाहिए | आप इस जानकारी को समान्य ज्ञान, इतिहास और भूगोल की प्रमाणिक पुस्तकों के द्वारा बढ़ा सकते है |
  • पीसीएस परीक्षा एक उच्च परीक्षा है इसलिए आपको अपनी तैयारी को उच्च स्तर पर ले जाना होगा इसके लिए आपको अधिक मेहनत करने की आवश्यकता होगी | पीसीएस परीक्षा एक नागरिक सेवा परीक्षा होती है इसके ध्यान में रखते हुए इसका पेपर उच्च स्तर का आता है |
  • पीसीएस परीक्षा में नवीनतम घटनाक्रम और अंतर्राष्ट्रीय घटनाक्रम से संबंधित कई प्रश्न पूछे जाते है, इसके लिए आपको देश की नवीनतम घटनाक्रम और अंतर्राष्ट्रीय घटनाक्रम की जानकारी समय से ही कर लेनी है | आप इससे अपडेट रहने के लिए प्रति दिन एक दैनिक अखबार का अध्ययन कर सकते है | इसके अतिरिक्त आपको प्रतिदिन एक न्यूज चैनल देखना होगा इससे आपको समय रहते ही दैनिक घटनाक्रम की जानकारी प्राप्त हो जाएगी |
  • इस परीक्षा की तैयारी के लिए एनसीईआरटी की पुस्तकें सबसे अच्छी मानी जाती है, इन पुस्तकों के अध्ययन के लिए कई विशेषज्ञों के द्वारा सलाह प्रदान की जाती है | आप इनका अध्ययन करने के बाद नोट बना सकते है, इससे परीक्षा के समय आपको रिवीजन करने में आसानी होगी | यदि आप अच्छे नोट बनाते है तो परीक्षा में अच्छे अंक प्राप्त कर सकते है |
  • लगभग सभी राज्यों की पीसीएस परीक्षा में हिंदी विषय को अवश्य सम्मिलित किया जाता है, इसलिए आपको इस प्रश्न पत्र की अच्छी तैयारी करनी होगी | इसके लिए आपको पर्यावाची, विलोम, मुहावरे, लोकोक्तियाँ, शब्द रूप, समास आदि का अध्ययन गहनता के साथ करना होगा | इसके साथ ही आपको व्याकरण की अच्छी समझ होनी चाहिए | जब आप इस प्रकार से तैयारी करते है तो आपको हिंदी प्रश्न पत्र में अच्छे अंक प्राप्त हो सकते है | इससे आपका परिणाम बेहतर हो सकता है | अच्छे अंक प्राप्त होने के बाद ही आप अपने समकक्ष अभ्यर्थी से प्रतियोगिता कर पाएंगे |

ये भी पढ़ें: LLB KA FULL FORM KYA HAI

ये भी पढ़ें: ओके (OK) का फुल फॉर्म क्या होता है

ये भी पढ़ें: CRPF FULL FORM IN HINDI

ये भी पढ़ें: PPT KA FULL FORM IN HINDI