IT Full Form in Hindi – आईटी का मतलब क्या होता है

हमारे जीवन का प्रमुख भाग टेक्नोलॉजी बन चुकी है | हमारे द्वारा इसका उपयोग जीवन के लगभग हर पहलू में किया जाता है | वर्तमान समय में सूचना प्रथम स्थान पर है | इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी (आईटी) व्यक्ति के सभी कार्यों को प्रभावित कर रही है | 21 सेंचुरी में टेक्नोलॉजी का महत्व बहुत ही अधिक बढ़ गया है | आधुनिक समय में मनुष्य के द्वारा Computer, Internet, Website, Email और E-Commerce का आविष्कार किया गया है |

IT Full Form In Hindi

आज के समय में हम जो भी परिवर्तन देख पा रहे है यह सभी इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी की देन है | इस पेज पर IT Full Form in Hindi , आईटी कोर्स क्या होता है, के विषय में बताया जा रहा है |

YAHOO KA FULL FORM

आईटी का फुल फॉर्म (Full Form of IT)

आईटी का फुल फॉर्म “Information Technology” है | हिंदी में इसे सूचना प्रौद्योगिकी कहा जाता है | सूचना प्रौद्योगिकी में सूचनाओ का प्रबंधन करने के लिए कंप्यूटर और सॉफ्टवेयर का उपयोग किया जाता है | इसमें IT इलेक्ट्रॉनिक्स और कंप्यूटर सॉफ्टवेयर के साथ सूचना को सुरक्षित रखा जाता है | इसके अंतर्गत store, Process, Convert, Protect, Transmit और Retrieve Information किया जाता है |

आईटी के क्षेत्र (IT field)

आईटी के क्षेत्र इस प्रकार है-

  • Software Development
  • Software Design
  • Web Development
  • Database Design
  • Data Management
  • Information Security
  • Networking

APPLE FULL FORM IN HINDI

पद (Post)

आईटी एक विस्तारित क्षेत्र है इसमें तकनीकी कौशल, ज्ञान रखने वाले छात्रों को विभिन्न नौकरी के अवसर प्रदान किये जाते है | यदि छात्र ने आईटी में स्नातक की डिग्री प्राप्त कर ली है तो उसे अच्छे वेतन पर रोजगार प्राप्त हो जाता है | आईटी क्षेत्र मे कुछ लोकप्रिय पद इस प्रकार है-

  • Software Developers
  • Network Engineers
  • Network Administrators
  • Computer Scientists
  • Database Administrator
  • Computer Programmer

आईटी कोर्स क्या होता है (What is IT)?

इनफार्मेशन सिस्टम का अध्यनन करने के लिए एक निश्चित पाठ्यक्रम के अंतर्गत चीजों को सीखाया जाता है, इसे ही कोर्स कहा जाता है | इसमें सॉफ्टवेयर एप्लीकेशन और कंप्यूटर हार्डवेयर का उपयोग करके इनफार्मेशन को स्टोर, प्रोटेक्ट, प्रोसेस, ट्रांसमिट और सिक्योर करना सिखाया जाता है | वर्तमान समय में सम्पूर्ण विश्व कंप्यूटर पर निर्भर हो रहा है | आईटी के द्वारा कंप्यूटर की टेक्नोलॉजी को बढ़ावा दिया जाता है | इसके अंतर्गत एप्लीकेशन इनस्टॉल करने से लेकर डेटाबेस डेवलपमेंट करना सिखाया जाता है |

आईटी कोर्स के प्रकार (Types of Course)

आईटी कोर्स तीन प्रकार के होते है-

डिग्री कोर्स (Degree course)

आईटी कोर्स में यह कोर्स सबसे अधिक किया जाता है | इसकी अवधि तीन वर्ष से लेकर 4 वर्ष तक रहती है | यदि आप इस कोर्स को करना चाहते है तो भारत में कई कॉलेज और यूनिवर्सिटी के द्वारा इस कोर्स का संचालन किया जाता है | यदि आप इसमें प्रवेश लेना चाहते है तो आपको 10+2 उत्तीर्ण होना आवश्यक है | इसकी फीस कालेज के ऊपर निर्भर होती है | यदि आप अच्छे कालेज में एडमिशन लेना चाहते है तो आपको अधिक फीस का भुगतान करना होगा | कालेज में फीस का अंतर बहुत अधिक देखने को मिलता है | इसकी फीस लगभग 50,000 रूपये से लेकर 2.50 लाख रूपये प्रतिवर्ष हो सकती है | डिग्री कोर्सों को कई भागों में विभाजित किया गया है | आप अपनी इच्छा के अनुसार कोर्स का चयन कर सकते है |

PPT KA FULL FORM IN HINDI

डिप्लोमा कोर्स (Diploma Course)

आईटी कोर्स के अंर्तगत डिप्लोमा कोर्स भी आते है, इसकी अवधि एक वर्ष से दो वर्ष तक हो सकती है | इसके अंतर्गत इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी का विस्तार से अध्ययन कराया जाता है | यदि आप डिप्लोमा कोर्स करने के इच्छुक है तो आपको 10+2 उत्तीर्ण होना अनिवार्य है | इस प्रकार के कोर्स का संचालन बहुत से कॉलेज या इंस्टिट्यूट में कराया जाता है | आप अपने नजदीकी कालेज में प्रवेश ले सकते है | इसकी फीस 10,000 रुपए से लेकर 50,000 रूपये प्रति वर्ष हो सकती है |

सर्टिफिकेट कोर्स (Certificate course)

सूचना प्रौद्योगिकी में सबसे कम अवधि में सर्टिफिकेट कोर्स कराया जाता है, इसकी अवधि एक वर्ष हो सकती है | यदि आप इसे करना चाहते है तो आपको 10+2 उत्तीर्ण होना अनिवार्य है | सूचना प्रौद्योगिकी में सर्टिफिकेट कोर्स की फीस 10,000 रूपये से लेकर 15,000 रूपये तक हो सकती है | इसको करने के बाद आप अनेक क्षेत्र में रोजगार प्राप्त कर सकते है |

करियर (Career)

इन्फॉर्मेशन टेक्नोलॉजी युवाओं के द्वारा बहुत ही पसंद किया जा रहा है. इसलिए इसमें बहुत ही तेजी के साथ विस्तार हो रहा है | यदि आपकी रूचि कंप्यूटर और टेक्नोलॉजी में है तो आप के लिए इन्फॉर्मेशन टेक्नोलॉजी या IT बहुत ही बेहतर विकल्प है | आप अपनी रूचि के अनुसार सर्टिफिकेट या डिप्लोमा या डिग्री कोर्स कर सकते है | कोर्स करने के उपरांत आपको आपकी योग्यता के अनुसार जॉब प्रदान हो जाती है | आप इसके बाद सरकारी नौकरी के लिए भी आवेदन कर सकते है |

इन्फॉर्मेशन टेक्नोलॉजी के लाभ (Benefits)

इन्फॉर्मेशन टेक्नोलॉजी के लाभ इस प्रकार है-

  • इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी के द्वारा संचार के क्षेत्र में बहुत अधिक प्रगति हुई है, इस समय हम इसका प्रयोग करते हुए किसी को मैसेज, वॉइस कॉल, वीडियो कॉल आसानी से कर सकते है इसके द्वारा हम कुछ ही मिनटों में सूचना को भेज सकते है |
  • सूचना प्रौद्योगिकी की सहायता से विभिन्न देशों, भाषाओं और संस्कृतियों के बीच सूचना, ज्ञान को साझा किया जा सकता है, इससे हमारे ज्ञान में बहुत तेजी से वृद्धि हुई है |

ETC KA FULL FORM IN HINDI

2. Income Tax

यह इंकम टैक्स की फील्ड है जिसके अंदर आपको अपनी इंकम यानी कि कमाई पर गवर्नमेंट को टैक्स देना होता है। जिसकी माध्यम से हमारी सरकारे इस देश को चलाती है क्योकि हमारे देश की कमाई Tax से ही सबसे ज़्यादा होती है।