TGT Full Form in Hindi

दुनिया के सभी अभ्यर्थियों का अपना एक लक्ष्य होता है, क्योंकि, जिनमे से कुछ अभ्यर्थियों का लक्ष्य होता है, वह डॉक्टर बने, तो कुछ अभ्यर्थी वकील या इंजीनियर बनना चाहते है | इसी तरह कुछ अभ्यर्थी ऐसे भी होते है, जो सरकारी नौकरी में टीचर की नौकरी प्राप्त करने की इच्छा रखते है | इसलिए एक टीचर बनने के लिए अभ्यर्थियों को टीजीटी की परीक्षा देनी होती हैं, क्योंकि  TGT एक एग्जाम होता हैं, जिसमें सफलता प्राप्त कर लेने के बाद अभ्यर्थी एक अध्यापक बन सकता है | टीजीटी की परीक्षा का आयोजन प्रत्येक वर्ष किया जाता है, जिसमें बड़ी तदाद में अभ्यर्थी शामिल होते है और इसके बाद जो अभ्यर्थी इस परीक्षा में सफलता प्राप्त कर लेते हैं उन अभ्यर्थियों को टीचर के पद के लिए नियुक्त कर लिया जाता है | इसलिए यदि आप भी एक सरकारी टीचर बनने की इच्छा रखते हैं, और आप टीजीटी के विषय में जानना चाहते हैं, तो यहाँ प् आपको TGT Full Form in Hindi , टीजीटी का फुल फॉर्म और मतलब क्या है ? इसके विषय में पूरी जानकारी प्रदान की जा रही है |

UGC FULL FORM IN HINDI

टीजीटी का फुल फॉर्म | TGT KA FULL FORM

टीजीटी का फुल फॉर्म “Trained Graduate Teacher” होता है | इसे हिंदी भाषा में “प्रशिक्षित स्नातक शिक्षक” कहा जाता है |

टीजीटी (TGT) का क्या मतलब होता है ?

टीजीटी (TGT) एक ऐसा एग्जाम है, जिसका आयोजन प्रतिवर्ष उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा सेवा चयन बोर्ड द्वारा कराया जाता है  | टीजीटी की आयोजित की जाने वाली इस परीक्षा के लिए छात्र और छात्राएं दोनों ही आवदेन कर सकते है, लेकिन इस परीक्षा में सफलता प्राप्त करने के लिए अभ्यर्थियों को बहुत अधिक मेहनत करनी होती है, जिसके बाद टीजीटी की इस परीक्षा में सफलता प्राप्त करने में सफल हो पाते है क्योंकि, एक सरकारी टीचर बनने के लिए अभ्यर्थियों को कई पड़ाव में सफलता प्राप्त करनी होती है, जिसके बाद ही एक सरकारी टीचर बन सकता है | टीजीटी की सभी परीक्षाओं में सफलता प्राप्त कर लेने के बाद आप  6-10 तक की कक्षा के अभ्यर्थियों को पढ़ा सकते है |

कैट (CAT) का फुल फॉर्म क्या है

टीजीटी (TGT) परीक्षा के लिए योग्यता 

  1. टीजीटी परीक्षा में शामिल होने के लिए अभ्यर्थी को किसी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से graduate होना आवश्यक होता है | 
  2. अभ्यर्थी के पास Teacher Certificate उदाहरण के तौर पर B.ed, M.ed या फिर BTC का प्रमाण पत्र होना चाहिए | 
  3. सभी प्रमाण पत्रों में अभ्यर्थी के 50% तक अंक होने आवश्यक है | 
  4. TGT परीक्षा के लिए अभ्यर्थी की न्यूनतम आयु 21 और अधिकतम आयु 60 वर्ष होनी चाहिए |
  5. लिखित परीक्षा में अभ्यर्थी को 85 फ़ीसदी अंक से सफलता प्राप्त करना अनिवार्य है |

टीजीटी (TGT) द्वारा पढाये जाने वाले विषयों की जानकारी 

TGT में अभ्यर्थियों को कई तरह के  विषयों का ज्ञान कराया जाता है | TGT द्वारा सिखाया गये कुछ विषय के नाम कुछ इस प्रकार है –

  1. अंग्रेजी
  2. हिंदी
  3. गणित
  4. भौतिकी
  5. रसायन विज्ञान
  6. जीवविज्ञान
  7. इतिहास
  8. अर्थशास्त्र भूगोल
  9. हिंदी
  10. बंगाली और संस्कृत।

BSC FULL FORM IN HINDI

यहाँ पर हमने आपको टीजीटी (TGT) का फुल फॉर्म और मतलब क्या है ? इसके विषय में जानकारी उपलब्ध कराई है | यदि इस जानकारी से रिलेटेड आपके मन में किसी प्रकार का प्रश्न या विचार आ रहा है, अथवा इससे सम्बंधित अन्य कोई जानकारी प्राप्त करना चाहते है, तो कमेंट बाक्स के माध्यम से पूँछ सकते है, हम आपके द्वारा की गयी प्रतिक्रिया और सुझावों का इंतजार कर रहे है |

PHD FULL FORM IN HINDI