LLB Ka Full Form Kya Hai | LLB full form – LLB क्या है, प्रकार, योग्यता, फीस, कॉलेज की जानकारी

एलएलबी को एक अंडरग्रेजुएट लॉ डिग्री के रूप में जाना जाता है | यदि आप कानून के क्षेत्र में अपना करियर बनाना चाहते है, तो आपको विधि में स्नातक करना अति-आवश्यक है | विधि में स्नातक करने के बाद आप अधिवक्ता के पद पर कार्य कर सकते है |

यदि आप कानून के क्षेत्र में रूचि रखते है, तो आप को विधि में स्नातक होना अतिआवश्यक है | स्नातक होने के बाद आप लोगों के मुकदमे न्यायालय में आसानी से लड़ सकते है | इस पेज पर LLB Ka Full Form Kya Hai , एलएलबी का क्या मतलब होता है, के विषय में बताया जा रहा है |

BA FULL FORM IN HINDI

एलएलबी (LLB) का फुल फॉर्म

एलएलबी (LLB) का फुल फॉर्म का “Bachelor of Laws” होता है, हिंदी में इसे “विधि स्नातक” कहा जाता है | एलएलबी विधि से सम्बंधित एक एजुकेशनल डिग्री है |  इस कोर्स में छात्रों को लॉ के विषय में पूरी जानकारी प्रदान की जाती है | एलएलबी कोर्स करने के बाद छात्र एक वकील के रुप में कार्य कर सकते है और मुकदमे की पैरवी कर सकते है |

भारत में विधि में पढ़ाई करने के लिए सर्वप्रथम यूनिवर्सिटी का निर्माण बेंगलुरु में किया गया था | इसकी शुरुआत वर्ष 1987 में की गयी थी | एलएलबी एक तीन वर्षीय कोर्स है और इसे छ: सेमेस्टर में विभाजित किया गया है | एलएलबी की डिग्री परीक्षा में सफल होने वाले छात्रों को प्रदान किया जाता है | 6 सेमेस्टर में से प्रत्येक छात्र को अच्छे अंक प्राप्त करना चाहिए | जब छात्र डिग्री प्राप्त कर लेते है तो उन्हें वकील बनने के लिए All India Bar Exam को उत्तीर्ण करना पड़ता है | इसमें सफल होने के बाद ही छात्र एक वकील के रूप में कार्य कर सकते है |

LLM FULL FORM IN HINDI

एलएलबी (LLB) के प्रकार

एलएलबी (LLB) को दो प्रकार से विभाजित किया गया है-

  • तीन वर्षीय कोर्स
  • पांच वर्षीय कोर्स

तीन वर्षीय कोर्स

प्रथम प्रकार में यह तीन वर्षीय कोर्स में निर्धारित किया गया है इसको करने के लिए छात्र को किसी में संकाय में स्नातक होना आवश्यक है | स्नातक के पश्चात आप इसमें प्रवेश ले सकते है, इस कोर्स के लिए भारत की कई यूनिवर्सिटी के द्वारा आवेदन की मांग की जाती है | आप अपनी नजदीकी यूनिवर्सिटी में आवेदन कर सकते है | कुछ यूनिवर्सिटी में प्रवेश मेरिट के आधार पर दिया जाता है और कुछ यूनिवर्सिटी में प्रवेश इंट्रेंस एग्जाम के माध्यम से प्रदान किया जाता है | आप अपनी इच्छा के अनुसार यूनिवर्सिटी का चयन कर सकते है | कुछ संस्थान के द्वारा सीधा प्रवेश भी प्रदान किया जाता है, आप डायरेक्ट भी एडमिशन ले सकते है |

UAPA FULL FORM IN HINDI

पांच वर्षीय कोर्स

यदि आप इंटरमीडियट के बाद विधि के क्षेत्र में अपना करियर बनाना चाहते है, आपको इस पांच वर्षीय कोर्स में प्रवेश लेना होगा | Common Law Admission Test के द्वारा आप पांच वर्षीय कोर्स में प्रवेश प्राप्त कर सकते है | यह टेस्ट एक संयुक्त परीक्षा है, इसमें सफल होने के बाद आपके अंकों के आधार पर आपको संस्थान का आवंटन किया जाता है | भारत में कई यूनिवर्सिटी है, जो स्वयं पांच वर्षीय कोर्स का संचालन करती है आप इसके माध्यम से भी प्रवेश ले सकते है |

शैक्षिक योग्यता

सामान्यतः एलएलबी में प्रवेश स्नातक परीक्षाओं में प्राप्त अंकों के आधार पर प्रदान किया जाता है | इसमें वह अभ्यर्थी जो B.A., B.Com., B.Sc. Degree में न्यूनतम 45 प्रतिशत अंकों के साथ उत्तीर्ण है भाग ले सकते है | एससी / एसटी अभ्यर्थीयों के लिए 40 प्रतिशत अंकों का निर्धारण किया गया है | यदि आप Common Law Admission Test के द्वारा प्रवेश लेना चाहते है, तो आपके इंटरमीडियट में 45 प्रतिशत अंक होने अनिवार्य है | आरक्षित श्रेणी के अभ्यर्थियों को पांच प्रतिशत की छूट प्रदान की जाती है |

BCA FULL FORM IN HINDI

एलएलबी के बाद करियर

एलएलबी कोर्स करने के बाद आप आसानी से जॉब प्राप्त कर सकते है | वर्तमान समय में एलएलबी धारकों की बहुत ही अधिक मांग बनी हुई है | इस कोर्स के बाद आप यहां पर जॉब के लिए आवेदन कर सकते है-

  • Colleges & Universities
  • Courts & Judiciary
  • Law Firms
  • MNCs
  • Bank Legal Dept

एलएलबी कोर्स की शाखाएं

एलएलबी कोर्स की शाखाएं इस प्रकार है, इनकों करने के बाद आप अपना करियर बना सकते है |

  • Criminal Law
  • Corporate Law
  • Patent Attorney
  • Cyber Law
  • Family Law
  • Banking Law
  • Tax Law

RTI FULL FORM IN HINDI

एलएलबी में रोजगार के क्षेत्र

एलएलबी में रोजगार के क्षेत्र इस प्रकार है-

  • Banks
  • Business Houses
  • Educational Institutes
  • Newspapers
  • Judiciary
  • Private Practice
  • Sales Tax and Excise Departments
  • Legal Constancies
  • News Channels

एलएलबी के बाद जॉब प्रोफाइल

एलएलबी के बाद जॉब प्रोफाइल इस प्रकार है-

  • Advocate
  • Attorney General
  • Magistrate
  • Munsifs (Sub-Magistrate)
  • Notary
  • Oath Commissioner
  • Public Prosecutor
  • Solicitors
  • Teachers
  • Trustees
  • District and Sessions Judge
  • Law Reporters
  • Legal Advisor’s

GST KA FULL FORM IN HINDI